गर्भावस्था के दौरान होने वाली खुजली से राहत पाने के लिए मदद करेंगी ये घरेलु चीज़ें

Rochak News 15-05-2019 08:28:57
These home items will help to relieve the itching during pregnancy

डेस्क। गर्भावस्था आपके शरीर के लिए बहुत से मेटाबोलिक और हारमोनल बदलाव साथ लेकर आती है। इसकी वजह से महिलाओं की त्वचा अत्यधिक संवेदनशील हो जाती है। इस दौरान आपको कई परेशानियों से गुज़रना पड़ता है। जिसके कारण उन्हें खुजली जैसी त्वचा संबंधी परेशानियां हो जाती है। क्योंकि भ्रूण का आकार बढ़ने की वजह पेट का आकार भी बढ़ता है। इस बढ़त से तालमेल बिठाने के लिए पेट की बाहरी त्वचा में खिंचाव पैदा होता है जिसकी वजह से खुजली होती है। आमतौर पर रक्त संचार बढ़ने या पेट की त्वचा की स्ट्रेचिंग की वजह से खुजली होती है। लेकिन जब यह बहुत अधिक हो तो यह होने वाले बच्चे के लिए खतरे का इशारा है।अगर आपके साथ भी ऐसा ही हो रहा है तो आपको  बता दें उसे दूर करने के उपाय। गर्भावस्था के दौरान होने वाली खुजली को सामान्य नहीं लेना चाहिए। ये मां और बच्चें दोनो के लिए नुकसानदायक हो सकती है। ज्यादा खुजली होने पर डॉक्टर से सलाह लें।

गर्भावस्था में खुलजी की समस्या: गर्भावस्था में पेट फूलने के कारण मांसपेशियों में खिंचाव होता है, जिस से कई महिलाओं को खुजली की समस्या हो जाती है। गर्भावस्था के दौरान कई महिलाओं के पूरे शरीर में खुजली रहती है यह गर्भावस्था के दौरान लिवर की किसी गड़बबड़ी के कारण भी हो सकती है। जिसके लिए आपको अपने डाक्टर से परामर्श करने की जरूरत है। कभी-कभी तेज खुजली के कुछ और लक्षण भी दिखाई देते हैं और ऐसे में डाक्टरी सलाह जरूरी हो जाती है। इनमें से 3 जो सबसे खास हैं

गहरे रंग का पेशाब होना
असामान्य शौच होना
आंखो और त्वचा में पीलापन होना

प्रेगनेंसी के दौरान होने वाली खुजली के उपाय : गर्भावस्था में लगातार होने वाले खुजली परेशान करने के साथ-साथ हताशा भी पैदा कर देती है तो इसे काबू करने और इसके इलाज के लिए आप क्या करेंगी? आज आपको कुछ आसान से तरीके बताने जा रहे है  जो लगातार होने वाली खुजली से निपटने में आपकी मदद करेंगे। 

नारियल का तेल : खुजली होने पर नारियल का तेल सबसे ज्‍यादा राहत देता है। यह सुरक्षित भी होता है। इसे हल्‍का गुनगुना करके लगाएं। 

बर्फ से सिंकाई: इसके अलावा खुजली होने पर गर्भवती महिलाएं चाहे तो उस स्‍थान पर बर्फ से सिंकाई भी कर सकती हैं। ऐसे करने से आराम महसूस होगा

गर्म पानी से बचें : गर्भावस्‍था के दौरान गर्म पानी से स्‍नान न करके गुनगुने पानी का ही इस्‍तेमाल करें, वो भी आवश्‍यकता पड़ने पर।  इससे त्‍वचा में नमी बनी रहेगी, प्राकृतिक तेल भी बना रहेगा और खुजली नहीं होगी। 

बदन पोछते समय ज्यादा जोर न लगाएंः बदन सुखाने के लिए पोछते समय ज्यादा जोर न लगाएं और पोछ लेने के बाद खुजली से आराम के लिए बदन पर कोई तेल लगाएं। यह कमाल का काम करता है और शरीर की नमी को बरकरार रखता है। जिससे खुजली होने की कम संभावना रहती है।

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब बटन

 

ज्‍यादा से ज्‍यादा पानी पीएं: गर्भावस्‍था में खुजली से बचने के लिए ज्‍यादा से ज्‍यादा पानी पीएं, इससे शरीर में मौजूद विषाक्‍त पद्धार्थ बाहर निकलते है। शरीर और त्‍वचा की सफाई के लिए ज्‍यादा पानी पीएं। 

ढीले कपड़े पहनें : गर्भावस्‍था के दौरान ज्‍यादा कसे हुए कपड़े न पहनें। ढीले कपड़े पहनने से आराम रहता है और त्‍वचा में घर्षण न होने की वजह से ड्राईनेस भी नहीं होती है। 

pregnancy metabolic and hormonal changes itching in pregnancy measures to avoid itching in pregnancy
Sanjeevni Today News

Similar Post You May Like