बांझपन में बहुत ही फायदेमंद है चक्रासन, जाने विधि

Rochak News 15-05-2019 12:39:27
Chakrasan is very beneficial in infertility known method

डेस्क। आप सब जानते हैं बांझपन यह ऐसा रोग है जो की महिला के ऊपर दाग सा बन जाता हैं। जो स्त्री मां नहीं बन पाती उसे हमारे समाज में हेय दृष्टि से देखा जाता है।  एक साल तक लगातार संबंध बनाने के बाद भी अगर कोई स्त्री गर्भधारण नहीं कर पाती है तो माना जाता है कि पति या पत्नी में से किसी एक को प्रजनन संबंधी समस्या है। अगर स्त्री को यह समस्या है इसे बांझपन की समस्या कहते हैं। इसके पीछे कई कारण हो सकते हैं। साथ ही महिला के साथ-साथ उसके पति के शुक्राणुओं की भी जांच करवाना चाहिए, क्योकि जरुरी नहीं की बांझपन महिला में ही हो कभी कभी यह रोग पुरुष में भी हो जाता हैं। तो आइये जाने   व्यायाम  के बारे में जिसके जरिये आप घर पर ही इससे छुटकारा पा सकती हैं मां बनने के लिए यह करे। 

आप जानते ही हैं नियमित रूप से व्यायाम करने के बहुत सारे फायदे हैं। एक्‍सरसाइज शरीर को कई तरीकों से फायदा पहुंचाते हैं। इसके अलावा, एक्‍सरसाइज के कुछ प्रमुख प्रभाव हैं जो अप्रत्यक्ष रूप से आपके भीतर खोई हुई फर्टिलिटी को वापस लाने की दिशा में काम करते हैं। प्रजनन क्षमता बढ़ाने के लिए सही व्यायाम क्‍या हो सकते हैं? यहां हम आपको कुछ जरूरी एक्‍सरसाइज के बारे में बता रहे हैं जो महिलाओं और पुरुषों में प्रजनन क्षमता को बढ़ाते हैं और बांझपन की समस्‍या को दूर करते हैं।  

जानकारी के अनुसार आपको बता दें कि योग में बांझपन का इलाज बताया जाता है। माना जाता है कि चक्रासन बांझपन की समस्या से जूझ रही महिलाओं के लिए लाभदायक होता है। 

चक्रासन करने की विधि 

सबसे पहले पीठ के बल लेट जाएं।  घुटने मोड़ें और एड़ियों को नितंबों से स्पर्श कराते हुए पैरों को 10-12 इंच की दूरी पर रखें। 

बांह उठाएं और कोहनियां मोड़ लें। हथेलियों को कंधों के ऊपर सिर के निकट जमीन पर रख लें।  सांस लें और धीरे-धीरे धड़ को उठाते हुए पीठ को मोड़ें।

धीरे से सिर को लटकता छोड़ दें एवं बांहों तथा पांवों को यथासंभव तान लें। धीरे-धीरे सांस लें और धीरे-धीरे सांस छोड़ें।

जब तक संभव हो सके इस मुद्रा को बनाए रखें। इसके बाद शरीर को इस तरह नीचे करते हुए आरंभिक अवस्था में लौटें कि सिर जमीन पर ही टिका रहे। 

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब बटन

 

शरीर के शेष भाग को नीचे लाएं तथा विश्राम करें। यह 1 चक्र हुआ।  इस तरह आप 4 से 5 चक्र करें। 

exercise yoga remedy for infertility benefits of exercise chakrasana chasing chakrasan benefits
Sanjeevni Today News

Similar Post You May Like