इस मंदिर की मूर्तियों को हाथ लगाना भी है श्राप, जानिए कारण

Rochak News 29-03-2019 14:35:40
The idol of this temple is also curable know the reason

नई दिल्ली। आज हम आपको एक ऐसे मंदिर के बारे में बताएंगे जिसे जानकर आप दंग रह जाएंगे। दरअसल, हम जिस मंदिर की बात कर रहे है वो छत्तीसगढ़ के जगदलपुर जिला मुख्यालय से लगभग 35 किलोमीटर दूर इन्द्रावती नदी के ​तट पर मौजूद है। 

dfdf3

आप ये जानकर चौंक जाएंगे कि यहां के छिंदगांव के शिवमंदिर में जो प्रतिमाएं फैली पड़ी है उनकों हाथ लगाना भी पाप समझा जाता है। ये आज तक राज का विषय का बना हुआ है कि कोई ​भी आजतक इस रहस्य से वाकिफ नहीं हो पाया है। 

बताया जाता है कि कई वर्षों पूर्व यहां के राजाओं ने ऐसा करने से इंकार कर दिया था एवं यहां के मंदिर परिसर में जो तख्ती लगी हुई है उसमें भी स्पष्ट तौर पर हाथ लगाने पर इंकार कर रखा है। दरअसल, यहां के नागरिक राजा को दंतेश्वरी देवी का माटी पूजारी मानते है। 

dfdf3

चूंकि अभी भी लोग राजाओं का आदर करते है तथा उनके आदेशों को पूरे श्रद्धा से पालन करते है। साथ ही यहां इद्रावती नदी के तट पर मौजूद छिंदगांव के गोपेश्वर महादेव मंदिर में प्राचीन मूर्तियां काफी मशहूर है।

छिंदगांव गोरेश्वर महादेव मंदिर प्रतिमाएं रहस्य chhindgaon goreeshwar mahadev temple statues mystery
Sanjeevni Today News

Similar Post You May Like